page contents

Shivrajpur Beach – शिवराजपुर बीच ब्लू फ्लेग सर्टिफिकेट पाने वाला गुजरात का सबसे साफ़ सुथरा बीच है।

जिसके बारे आज हम यहाँ पर ज्यादा जानेंगे।

शिवराज पुर बीच कहाँ पर आया हुवा है ?

द्वारका मुख्य मंदिर से करीब 10 से 12 किमी की दूरी पर यह सुंदर बीच आया हुवा है।

हालां की यह बीच अनछुवा है मतलब की अभी इस बीच के बारे में यहाँ नजदीक के शहरों में रहने वाले भी कई लोग नहीं जानते।

इस लिए यह बीच कम भीड़भाड़ वाला और अभी तक तो साफ़ सुथरा बीच है।

यह बीच द्वारका से ओखा जाते हुवे रास्ते में पड़ता है।

द्वारका से सबसे जाने माने बीच बेट द्वारका इसी रास्ते से जाना पड़ता है।

शिवराजपुर बीच पर पानी तट से दूर तक उथला है जिसके कारण आप यहाँ पर गोवा के बीचों जैसे अनुभव करेंगे।

यहाँ पर बच्चे भी नहाने का आनंद उठा सकते है।

यहाँ का शांत नीला पानी और रेतीला समुद्र तट बीच पर एक सुंदर अनुभव कराता है।

सबसे अच्छी बात यह है की हाल ही में गुजरात के इस बीच को अपनी सुंदरता के लिए ब्लू फ्लेग सर्टिफिकेट मिला है।

Shivrajpur Beach

ब्लू फ्लैग सर्टिफिकेट क्या होता है ?

अब आप के मन में यह सवाल जरूर आएगा की या ब्लू फ्लैग सर्टिफिकेट क्या होता है ?

तो आइये समुद्री बीचिझ को दिए जाने वाले यह ब्लू फ्लेग सर्टिफिकेट के बारे में थोड़ा जान लेते है। 

तो यह ब्लू फ्लैग डेनमार्क की एक संस्था है।

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP), विश्व पर्यटन संगठन (UNWTO), FEE और IUCN के प्रख्यात सदस्यों के एक अंतर्राष्ट्रीय जूरी द्वारा ब्लू फ्लैग सर्टिफिकेट दिया जाता है।

यह पुरस्कार दुनिया के सबसे सुरक्षित, सबसे स्वच्छ और पर्यावरण के अनुकूल समुद्र तटों को दिया जाता है।

यह एक प्रकार का इको लेबल है जिसमें पर्यावरण शिक्षण, साधनो नी प्राप्यता और सुरक्षा को ध्यान में रखा जाता है।

1987 में पुरस्कार शुरू होने के बाद से स्पेन ने लगभग तीन दशकों तक प्रथम स्थान प्राप्त किया हुवा है।

दुनिया में भारत पहला ऐसा देश बना है जिसने अपने बीचिस यानि की समुद्री तट के लिए ब्लू फ्लैग सर्टिफिकेट मिले है।

भारत को पहले ही प्रयास में 8 ब्लू फ्लेग सर्टिफिकेट मिल गए है। 

जिसमे गुजरात के दो बिचिस शामिल है।

उन दो समुद्री तटों में गुजरात के द्वारका के पास आये हुए शिवराज पुर बीच और दिउ का घोघला बीच शामिल है।

भारत के कौन से वह 8 बिचिस है जिसे ब्लू फ्लेग सर्टिफिकेट मिला है ?

  • गुजरात के द्वारका के पास शिवराज पुर बीच और दिउ का घोघला बीच,
  • कर्णाटक के कासारकोद और पुड्डु बिद्री,
  • केरल का कप्पाड बीच,
  • आंध्रप्रदेश के ऋषिकोंडा बीच,
  • ओडिशा का गोल्डन बीच और..
  • अंडमान निकोबार का राधा नगर बीच को दिया गया है।

इसके साथ ही दरियाई जीवन के सरंक्षण के लिए सबसे अच्छा प्रयत्न करने के लिए भारत को तीसरा इनाम मिला है।

इन आठों बीच को कोस्टल रेगुलेशन जोन CRZ के अंतर्गत समाविष्ट किया गया है।

ब्लू फ्लेग मिलने से उस समुद्री तट पर क्या बदलाव आते है ?

Shivrajpur Beach

ब्लू फ्लैग मिलने के बाद इन समुद्र किनारों पर 10 मीटर की हाई ट्रेड लाइन से दूर कुछ सुविधाएं शुरू की जाएगी।

जैसे की..

  • पिने का पानी,
  • टॉयलेट,
  • शावर रूम,
  • चेंजिंग रूम,
  • सोलर प्लांट,
  • सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट रूम,
  • बीच तक पहुँचने के लिए रास्ता,
  • बीच पर लाइटिंग,
  • आउटडोर स्पोर्ट्स एक्टिविटी के लिए सुविधा और 

CCTV सुविधा की जाएगी।

इन तमाम ८ बीच को आंतर राष्ट्रीय सुविधा से सज्ज किया जायेगा। जिससे विदेशी पर्यटकों को आकर्षित किया जा सके।

जापान ,दक्षिण कोरिया और UAE पिछले कई सालों से अपने समुद्र तटों के लिए यह ब्लू फ्लेग सर्टिफिकेट रखते है।

सबसे खुसी की बात यह है की भारत सबसे पहला ऐसा देश है जिसने पहले ही प्रयास में एक साथ अपने ८ बीच के लिए यह सर्टिफिकेट प्राप्त किये है।

शिवराजपुर बीच पर आप किन चीजों का आनंद उठा सकते है ?

Shivrajpur Beach

बीच पर तट के पास पानी नहाने और किनारे के नजदीक तैरने लायक साफ़ है।

वैसे किनारे से अंदर तैरते हुवे दूर तक जाना सुरक्षित नहीं है।

आप यहाँ अपने परिवार के साथ पानी में नहाने का आनंद उठा सकते हो।

किनारे पर नास्ता करने की कुछ स्टॉल बने हुवे है। वैसे घर से बना हुवा नास्ता लेजाना सुझाव पूर्ण है।

आप सुबह के उगते सूरज और शाम के ढलते सूरज का मनोरम्य नजारा देख सकते है और उसका भरपूर आनंद उठा सकते है।

रात का अनुभव..

यहां रात को रुकने के लिए टेंट की सुविधा भी है और इसकी कीमत करीब 2000-2500 रुपये है जो बहुत अच्छी जगह पर होने के बावजूद कुछ भी नहीं है।

शिवराजपुर बीच पर आप कौन से खेलों का आनंद उठा सकते हो ?

Shivrajpur Beach

शिवराजपुर में अभी विकास कार्य चल रहा है। फिरभी आप यहाँ पर कई खेलों का आनंद उठा सकते हो। जैसे की..

  • Boating – बोटिंग
  • Snorkeling – स्नॉर्केलिंग
  • Scuba Diving- स्कूबा डाइविंग 
  • Moter Byking – मोटर बाइकिंग
  • Horse Raiding – हॉर्स राइडिंग 

वैसे आने वाले सालों में सायद आप यहाँ पर और भी कई पानी के खेलों का आनंद उठा पाएंगे।

अब अगर आप पानी के खेलों के बारे में कुछ नहीं जानते तो मैंने पानी में आनंद उठा सके वैसे सारे खेलों के बारे में एक दूसरा आर्टिकल लिखा हुवा है।

वैसे वह आर्टिकल गोवा में खेले जाने वाले पानी के खेलों के बारे में है लेकिन फिरभी आप को खेल के बारे में साडी जानकारी देगा। 

उस आर्टिकल को आप निचे दी गयी लिंक पर जाके विस्तार से पढ़ सकते हो।

Best time to Visit Shivrajpur beach

अक्टूबर से मार्च का समय यहाँ घूमने आने के लिए अच्छा है।

Shivrajpur beach entry fees

Shivrajpur Beach

Shivrajpur beach timings

सूर्योदय से सूर्यास्त

How to reach Shivrajpur beach ?

By Air :

नजदीकी एयरपोर्ट जामनगर है। आप वहां से राज्य परिवहन की या प्राइवेट बस से यहाँ तक पहुँच सकते है।

By Train :

नजदीकी रेल्वे स्टेशन द्वारका जंक्शन है। जो एक प्रसिद्द यात्रा धाम होने के कारण राज्य और देश के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुवा है। 

रेल्वे स्टेशन से आप लोकल वेहिकल की मदद से आसानी से इस बीच तक पहुँच सकते हो।

By Bus :

द्वारका गुजरात का प्रसिद्द यात्रा धाम होने की वजह से सड़क मार्ग से भी राज्य के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुवा है। 

आप को द्वारका में ही रहने और खाने की अच्छी व्यस्था मिल जाएगी।

शिवराज पुर बीच के पास रुकने की कोई व्यस्था नहीं है।

आप द्वारका से बाइक या कार रेंट पर ले कर,राज्य परिवहन की बस या फिर ऑटो रिक्षा की मदद से इस शिवराजपुर बीच तक पहुँच सकते है।

शिवराजपुर बीच के पास घूमने लायक जगहें..

शिवराजपुर बीच के पास देवभूमि द्वारका बसी हुई है जहाँ पर बहोत सारी घूमने लायक जगहें आयी हुई है।

जिसके बारे में मैंने 2 आर्टिकल विस्तार से लिखे हुए है। जिसे आप दी गयी लिंक पर जाके पढ़ सकते है।

  1. द्वारका में देखने लायक जगह
  2. बेट द्वारका टापू
  3. नागेश्वर ज्योतिर्लिंग ( भगवान शंकर के 12 ज्योतिर्लिंग में से एक )

દરિયો..

मेरा दोस्त जो इस ट्रिप में मेरे साथ था उसने समुद्र के बारे में कुछ बहेतरीन लिखा है जो लोकल भाषा गुजराती में है जिसे में अपने आर्टिकल में शेयर किये बिना न रहे सका। 

जिसे पढ़ कर आप भी समुद्र की उस गहराई का आनंद ले….

દરિયો…!!

દૂર દૂર સુધી વાદળી અને લીલા કલર નું અદભુત કોમ્બિનેશન કરતો, ભૂખરા પથ્થરો પર અફળાતો,પવનના સુસવાટા અને મંદિરની ધજાઓથી સ્વાગત કરતો, દિવાદાંડીને રાહ બતાવતો, કયારેક બિહામણો, ક્યારેક સોહામણો એવો મારો દરિયો…!!

એ દરિયાપ્રેમીના વધામણાં હંમેશા કરે છે..!!

અનંત અનંત થી આવતા મોજાઓ જાણે અલગ અલગ દિશામાંથી ખુશીઓની ચાડી ખાતા હતા….

સ્કૂબા-ડાઇવ વખતે તો એવું લાગેલું જાણે શ્વાસ સિવાય બીજું કઈ બચ્યુંજ નથી, તળિયે જઈ આવ્યો એટલે એવું લાગ્યું જાણે દરિયાએ ગાઢ આલિંગન લઇ ઘણા બધા રહસ્યો છતા કરી દીધા અને ઘણો બધો ડેટા ય ડીલીટ કરી દીધો, મોબાઈલ જેમ ફેક્ટરી રીસેટ થાય એમ…

દરિયાના મોજા અને સૂર્યદેવ એવું શીખવી ગયા કે ગતિશીલ રહેવા છતાંય સ્થિરતા ત્યારેજ છે જયારે આપણે આપણા મૂળ સ્વભાવમાં હોઈએ…

ભોંયતળિયે જઈને આવીએ કે ઊંચા શિખર પર,પણ તલબ ચરમસીમાની છે એવું ય કાનમાં એમણે ઘણી વાર કહ્યું જે મને છેલ્લે છેલ્લે સમજાયું,જતી વખતે આગ્રહ પણ કરયો કે રોકાઈ જા, શું જલ્દી છે…..?

ના પાડવા છતા જે છેલ્લુ સનસેટ કેપ્ચર આપ્યું એ દરિયા એ આપેલી યાદગાર વિદાય ગિફ્ટ છે…. पियूष गोहिल.

Conclusion - निष्कर्ष

यह आर्टिकल मैंने अपने खुद के अनुभव से लिखा हुवा है।

अगर आप इस शिवराजपुर बीच के बारे में और भी ज्यादा जानकारी रखते हो तो यहाँ पर कमेंट बॉक्स में जरूर से शेयर कीजिये।

जिससे यहाँ पर घूमने आने वाले यात्रिको को इस जगह के बारे में और भी अच्छी जानकारी मिल सके जो हमारा इस आर्टिकल लिखने का मुख्य उदेश्य भी है।

अगर आप को यह आर्टिकल में दी गयी जानकरी उपयोगी लगी हो तो अपने दोस्तों में शेयर करना न भूलें।

मेरी इस वेबसाइट को नोटिफिकेशन बेल दबाके जरूर से सब्सक्राइब कर लीजिये जिससे आगे आने वाले ऐसे और भी कई आर्टिकल का नोटिफिकेशन आप को मिल सके।

आप के सुझाव मुझे और ज्यादा अच्छे आर्टिकल लिखने की प्रेरणा देंगे।

Note : आर्टिकल में दी गयी टिकट की किंमत समय समय पर बदल सकती है। मैंने यहाँ मौजूदा किंमत दी है जिसे में समय समय पर अपडेट करता रहूँगा।

फिरभी आप दी गयी किंमत को लगभग किंमत मान कर चलें।

आशा करता हूँ की आप को आर्टिकल में दी गई जानकारी यहाँ पर घूमने आने के समय जरूर से मदद करेगी। 

अपना कीमती समय इस आर्टिकल को देने के लिए आपका धन्यवाद।


dharmesh

My name is Dharmesh. I would like to travel different known as well as unknown places and same will be share with you in this website for make your journey more easy and enjoyable.

4 Comments

Bhavesh · December 23, 2020 at 7:41 pm

Thanks for your kne more artical and upgraded our knowledge about gujarat and places.
Keep it up

    dharmesh · December 23, 2020 at 7:52 pm

    Sure.. your comments motivate me to make more detailed article about unknown places of Gujarat.

khushbu · January 20, 2021 at 1:39 pm

shivraj pur beach , the way you explain is amazing and aws i like the way you describe the shivrajpur beach..

    dharmesh · January 21, 2021 at 9:18 pm

    thanks Khushbu..u will find more nice articles in future. pls visite..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Translate »